हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना किस बीमारी के लक्षण है

आज इस पोस्ट के माध्यम से आपको बताएँगे कि हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना किस बीमारी के लक्षण है, और इसके क्या कारण हो सकते है ?

हाथ-पैरों-में-कमजोरी-झुनझुनी-का-एहसास-होना-है-किस-बीमारी-के-लक्षण (1)

हाथ-पैरों में झुनझुनी का एहसास होना, ये समस्या अक्सर बहुत से लोगों को होती रहती है। हाथ पैरों में झुनझुनी आने पर हमारे हाथ पैर कुछ देर तक सुन्न हो जाते हैं। ऐसी स्थिति में हाथ पैरों को हिलाने में भी प्रॉब्लम होती है और हम खड़े होकर चल भी नहीं पाते हैं। ऐसा कुछ देर तक होता है, फिर बाद में यही स्थिति सामान्य हो जाती है। लेकिन ऐसा कई लोगो के साथ बार बार होता है, तो आज हम बारे में आपको बताएँगे कि हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण है ?

और साथ ही हम आपको इस पोस्ट में बताएँगे कि कौन से ऐसे कारण हैं जिनकी वजह से हमें हाथ और पैरों में झुनझुनी का एहसास होता है। तो अगर आप भी यह जानना चाहते है तो आगे इस पोस्ट को पढ़ सकते है।

हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होने के कारण

  • खुन की कमी: जब हमारे शरीर में खून की कमी होती है तो हाथ पैरों में कमजोरी होने के साथ ही झुनझुनी का एहसास होता है क्योंकि हमारे शरीर के अंगों में प्रॉपर रक्त का प्रवाह नहीं हो पाता है। इसलिए हमारे हाथ पैरों में झुनझुनी का आना खून की कमी की वजह से भी हो सकता है।
  • विटामिन B12 की कमी: जब हमारे शरीर में विटामिन B12 की कमी हो जाती है तो हमारे शरीर में कई परेशानियां होने लगती है, ऐसे में हाथ पैरों में झुनझुनी आना विटामिन B12 की कमी वजह से भी हो सकता है।
  • नसों पर प्रेशर: जब हम कोई काम करने की दौरान कंप्यूटर, लैपटॉप पर टाइपिंग या अधिक समय तक बैठकर टीवी देखते हैं तो हमारे हाथ और पैर की नसों पर प्रेशर पड़ता है, जिससे भी हमें हाथ या पैरों में झुनझुनी में एहसास हो सकता है।
  • गर्भावस्था: गर्भावस्था के दौरान भी कुछ महिलाओं को हाथ पैरों में कमजोरी झुनझुनी होती है क्योंकि गर्भवती महिलाओं के पैर सपाट होने की वजह से नसों पर असर पड़ता है। इसलिए इस दौरान भी झुनझुनी का एहसास हो सकता है।

इनके अलावा एक ही स्थिति में अधिक समय तक बैठे रहने या सोने की वजह से भी आपके हाथ या पैरों में झुनझुनाहट का एहसास हो सकता है। इसके अलावा शराब इत्यादि प्रदार्थो का सेवन करने से भी हमारे शरीर की नसों पर प्रभाव पड़ता है, जिसकी वजह से भी हाथ पैरों में झुनझुनी का एहसास होता है।

Also Read: दूध की चाय पीने के फायदे और नुकसान

हाथ-पैरों-में-कमजोरी-झुनझुनी-का-एहसास-होना-है-किस-बीमारी-के-लक्षण (2)

हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना किस बीमारी के लक्षण

  • डायबिटीज: जब डायबिटीज के मरीजों के शरीर में रक्त शर्करा और इंसुलिन की मात्रा बढ़ने लगती है तो जिसकी वजह से नसो पर प्रेशर बढ़ने लगता है जिसकी वजह से हाथ-पैरों में कमजोरी और झुनझुनी होने लगती है।
  • कार्पल टनल सिंड्रोम: कार्पल टनल सिंड्रोम में भी हाथ-पैरों में हलकी झुनझुनी का एह्साह होता रहता है। यहाँ तक कि कार्पल टनल सिंड्रोम में हमारा पूरा शरीर सुन्न हो जाता है।
  • किडनी की समस्या: यदि कोई व्यक्ति किडनी की समस्या से पीड़ित होता है तो इसका असर नसो पर पड़ता है और नसें कमजोर हो जाती है। ऐसे में किडनी की समस्या का हाथ पैरों में झुनझुनी होने भी एक लक्षण हो सकता है।
  • थायराइड: इन सब के अलावा हाथ-पैरो में झुनझुनी का एहसास होना थायराइड ग्रंथि में गड़बड़ी के कारण भी होता है।

कुछ लोग बिमारियों को लेकर लापरवाही करते हैं यदि आपको भी हाथ और पैरो में कमजोरी या झुनझुनी का एहसास बार बार होता है तो आप ऐसी स्थिति में इसे नजरअंदाज ना करें और डाक्टर से सलाह जरूर लें। हमारी छोटी सी लापरवाही बड़ी समस्या का रुप ले सकती है।

Also Read: कौन-कौन से फल एक साथ नहीं खाना चाहिए

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *