दूध की चाय पीने के फायदे और नुकसान – Good Health Tips 4U

चाय एक ऐसा पेय पदार्थ है जो अधिकतर लोगों की पसंद होती है। आज हम इस पोस्ट में बात करेंगे कि दूध की चाय पीने के फायदे और नुकसान क्या क्या है? यदि आप दूध से बनी चाय पीने के शौकीन हैं तो आपके लिए यह पोस्ट बहुत उपयोगी है इसलिए इस पोस्ट को अंत तक पूरा पढ़ें, जिससे आपको यह पता चल सके कि आपको दूध वाली चाय पीनी चाहिए या नहीं।

चाय पीना कोई बुरी बात नहीं है परंतु चाय एक सीमित मात्रा में पी जाये तो हमारे शरीर के लिए अच्छा है लेकिन हम आप चाय बार बार पीने के आदि है यह आपके शरीर को नुकसान भी पहुँचा सकती है, तो आइये हम एक एक करके जानते है कि दूध की चाय पीने के फायदे क्या है और फिर जानेंगे की इसके नुकसान क्या है।

दूध-की-चाय-पीने-के-फायदे-और-नुकसान (2)

दूध की चाय पीने के फायदे

  • दूध की चाय खराब मूड को ठीक करती है यानी कि दूध की चाय एंटीडिप्रेसेंट का काम करती है।
  • दूध की चाय में अदरक, इलायची जैसे कई सुगंधित मसाले डालकर बनाई जाए, तो हमारे शरीर और दिमाग को आराम दे सकती है और दूध की चाय के सेवन से शरीर की थकान व तनाव दूर होता है।
  • हमारी त्वचा को पोषण और चमक दूध से बनी चाय में मौजूद वसा से मिल सकता है। दूध की चाय में एंटी ऑक्सीडेंट और पॉलिफेनाल मौजूद होने की वजह से त्वचा को मुक्त कणों से बचाने के साथ ही झुर्रियो से भी बचाती हैं ।
  • दूध की चाय पीने से सिर दर्द से राहत मिलती है साथ ही दिमाग उत्तेजित होता है।
  • यदि दूध की चाय में अदरक और तुलसी के पत्तों को डालकर बनाई जाए तो यह सर्दी-जुकाम से भी आराम दिलाती है।

Also Read: शुगर में कौन से फल खाने चाहिए

दूध की चाय पीने के नुकसान

  • जब आप दूध से बनी चाय का अधिक सेवन करते हैं तो यह मस्तिष्क के रसायन में असंतुलन पैदा कर सकता है जो चिंता का कारण बनता है।
  • चाय में कैफीन और थियोफायलिन नामक रसायन पाया जाता है। यदि आप अधिक मात्रा में दुध से बनी चाय पीते है तो चाय में मौजूद थियोफायलिन कब्ज पैदा कर सकता है और सीने में जलन, दिल की धड़कन, रात को नींद ना आने की जैसी समस्याओं का जिम्मेदार कैफीन होता है। साथ ही चाय में मौजूद कैफीन शरीर को डिहाइड्रेट करता है।
  • प्रेगनेंसी में दुध से बनी चाय का अधिक मात्रा में सेंवन करना नुकसानदेह हो सकता है क्योंकि इससे गर्भपात का खतरा हो सकता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को सीमित मात्रा में चाय का सेवन करना चाहिए।
  • कम मात्रा में चाय का सेवन करने से शरीर डिटॉक्सिफाई होता है लेकिन अधिक मात्रा में सेवन किया जाए तो शरीर में अत्यधिक गर्मी उत्पन्न होने लगती है जिससे रसायनों के बीच असंतुलन पैदा होता है जिससे पिंपल्स की समस्या होने लगती हैं।
  • अगर किसी व्यक्ति को चाय पीने की लत लग जाए और चाय वक्त अगर ना मिले तो उसे सिर दर्द और चिड़चिड़ापन महसूस होने लगता है।
  • दूध से बनी चाय में वसा और चीनी होने की वजह से यह अपना वजन बढ़ा सकती है।
  • इनके अतिरिक्त दुध की चाय जी मिचलाना, पेट में जलन, पेट में गैस बनना, उल्टी, भुख की कमी, बैचेनी, पोषक तत्वों की कमी जैसी परेशानियो का कारण भी हो सकती है।

इससे आपको यह स्पष्ट तो हो ही गया होगा कि दूध की चाय पीने के फायदे से ज्यादा नुकसान है, इसलिए हम आपको चाय के सेवन करने से मना ही करेंगे, लेकिन कुछ लोग होते है जिन्हे चाय बहुत अधिक पसंद होती है, और कुछ लोग तो चाय से होने नुकसान को जानने के बाद भी चाय के आदि है, तो ऐसे लोगो के हम यही कहेंगे कि आप दूध से बानी चाय पीने की बजाय ग्रीन टी पी सकते है। जो की आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद है।

तो उम्मीद करते है आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी और आपके लिए काफी उपयोगी रही होगी, आपसे निवेदन है कि “दूध की चाय पीने के फायदे और नुकसान” पर लिखी गयी यह ईपयोगी पोस्ट आप अपने फ्रेंड्स और फॅमिली को शेयर करे, ताकि वो भी जान पाए कि दूध की चाय पीने के कितने फायदे है और कितने नुकसान।

Also Read: शुगर में कौन सा जूस पीना चाहिए

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *