बवासीर में किशमिश के फायदे – बवासीर में मुनक्का के फायदे

बवासीर ऐसी बीमारी है किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है। बवासीर की समस्या देखने में तो आम है लेकिन बवासीर होने पर बहुत पीड़ा और दर्द तकलीफदेह होता है। अक्सर देखा गया है कि Busy लाइफ के चलते लोग कभी भी, कुछ भी खा लेते हैं, जिसके चलते आज लोगों को कई तरह की बीमारी का सामना करना पड़ रहा है, बवासीर भी उन्हीं बिमारियों में एक जो गलत खानपान की वजह से उत्पन्न होती है।

बवासीर जैसी घातक बीमारी के छुटकारा पाने के लिए सबसे पहले अपने खानपान और जीवनशैली को सुधारना होगा, बवासीर के मरीज को अपने आहार में किन चीजों को शामिल करना चाहिए, इस पर हमने पहले ही अपनी वेबसाइट पर कई पोस्ट शेयर कर दी है, आप उन पोस्ट को पढ़ सकते है। आज की पोस्ट में हम बवासीर में किशमिश के फायदे क्या क्या है और किशमिश बवासीर के मरीज के लिए कितना लाभकारी है इसके बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे, तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

बवासीर-में-किशमिश-के-फायदे (2)

बवासीर में किशमिश बहुत लाभदायक होता है। किशमिश कैल्शियम, जिंक व फाइबर से भरपूर होने की वजह से बवासीर के लक्षण कम करके बवासीर की समस्या से जूझ रहे लोगों को फायदा पहुंचाने में मदद करता है। हम आपको बवासीर में मुनक्का खाने के फायदे के बारे में बताने वाले हैं। किशमिश पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है।

Also Read: बवासीर में बादाम खाना चाहिए या नहीं

बवासीर में मुनक्का(किशमिश) के फायदे

  • किशमिश फाइबर से भरपूर होने की वजह से पेट में कब्ज व पेट संबंधित कई समस्याओं से राहत दिलाने में मदद करता है। भीगी हुई किशमिश खाने से कब्ज की समस्या दूर होती है। बवासीर में भीगी हुई किशमिश को नियमित  खाने से कुछ ही दिनों में बवासीर से निजात पाया जा सकता है।
  • बवासीर में मल के साथ खून आने की वजह से बवासीर से पीड़ित व्यक्ति में खून की कमी हो जाती है। किशमिश में पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी कंपलेक्स, आयरन होता है। किशमिश बवासीर के रोगियों खून की कमी को दूर करता है।
  • बवासीर से पीड़ित व्यक्ति को प्राय शरीर में थकान और कमजोरी होती है । किशमिश शरीर को एनर्जी देने के साथ-साथ हड्डियों को मजबूत करता है। किशमिश के सेवन से थकान और कमजोरी को दूर किया जा सकता है।
  • रात को भीगे हुए किशमिश का पानी का सेवन करने से शरीर का डीटोक्सीफिकेशन होता है जिससे पाचन तंत्र बेहतर होता है।पाचन तंत्र से जुड़ी सभी समस्याओं से आराम दिलाने में मदद करता है।
  • बवासीर में कोलेस्ट्रॉल की वजह से जुझ रहे रोगियों के लिए किशमिश फायदेमंद होता है। किशमिश में कैल्शियम,फाइबर, जिंक जैसे गुण पाए जाने की वजह से वजन घटाने में मददगार होता है। और बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।
  • रात की भीगी हुई किशमिश और उसका पानी  के सेवन से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के साथ ही हमारे शरीर को मजबूत बनाने में सहायक होता है।

तो उम्मीद आपको इस पोस्ट को पढ़कर यह समझ में आ गया होगा कि किशमिश यानी की मुनक्का बवासीर के मरीज के लिए कितना लाभकारी है। बवासीर में किशमिश नियमित सेवन करने से बवासीर से निजात पाया जा सकता है। इसके अलावा किशमिश कई अन्य बीमारियों से भी हमारे शरीर को बचाता हैं।

Also Read: बवासीर में केला खाना चाहिए या नहीं

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *